Saturday, April 13, 2024
Homeउत्तर प्रदेशChandauli news:मोदी सरकार का नारी शक्ति वंदन बिल धोखा है-डीएन यादव

Chandauli news:मोदी सरकार का नारी शक्ति वंदन बिल धोखा है-डीएन यादव

-

spot_img

चंदौली

महिला कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए डीएन यादव

मोदी सरकार का नारी शक्ति वंदन बिल धोखा है-डीएन यादव
मोदी सरकार की नारी शक्ति वंदन बिल भारत की महिलाओं के साथ बहुत बड़ा धोखा है। यह नारी शक्ति वंदन बिल नहीं बल्कि देश की गरीब, दलित, पिछड़े वर्ग की महिलाओं के लिए नारी शक्ति रून्दन बिल है।इतना ही नहीं यह 2014 लोकसभा चुनावी घोषणा पत्र की तरह आगामी 2024 लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा का सबसे बड़ा चुनावी जुमला है। उक्त बातें समाजवादी युवजनसभा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव डीएन यादव ने अपने बिलारीडीह स्थित आवास पर सपा महिला कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा। उन्होंने कहा कि दरअसल लोकसभा का विशेष सत्र गुप्त रूप से इंडिया बनाम भारत के मुद्दे पर बुलाया गया था। लेकिन प्रधानमंत्री जी को विशेष सूत्रों से जी-20 में जब यह पता चला कि करीबी पूंजीपति मित्रों और नेताओं का विदेशो में जमा पैसा फंस जाएगा अथवा जप्त हो जाएगा क्योंकि यह अकूत पैसा इंडिया नाम के पते पर ही विदेशों में जमा है। अपने लोगों को बचाने के लिए आनन-फानन में नारी शक्ति वंदन बिल लाना पड़ा। यादव ने कहा कि अगर मोदी सरकार की मंशा साफ होती तो EWS के 10℅ आरक्षण की तरह बिना जनगणना कराए 33% महिला आरक्षण भी तुरंत लागू हो सकता था। ऐसे बिल से क्या फायदा जब 10 साल तक नारी शक्ति को इसका इंतजार करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा व आरएसएस दोनों महिला विरोधी रहे हैं।तभी तो भाजपा तथा आरएसएस प्रमुख का पद पर अब तक किसी महिला को नहीं दिया गया है।भाजपा में उमा भारती व वसुंधरा राजे जैसी महिला नेताओं का क्या हाल है।सबको पता है। डीएन यादव ने कहा कि मोदी सरकार अपने आंतरिक सर्वे से डरी हुई है। जिसमें भाजपा को 2024 के चुनाव में 140 से भी कम और इंडिया पीडीए गठबंधन को 300 से ज्यादा सीटे मिलने का अनुमान है ।उन्होंने कहा कि देश का नौजवान,किसान, मुसलमान अब एक पल भी मोदी सरकार को बर्दाश्त करने को तैयार नहीं है। देश मे रोजाना की खाद सामग्री और घरेलू उपयोग के सामान की बेतहासा बढ़ती कीमतों ने महिलाओं का घरेलू बजट चौपट कर दिया है ।बच्चों की पढ़ाई, लिखाई, दवाई व कमाई के लाले पड़ गए हैं ।इसी डर को डैमेज कंट्रोल करने के लिए महिला आरक्षण बिल लाया गया।लेकिन यह उल्टे मोदी सरकार की गले की फास बन गया है। उन्होंने कहा कि भारतीय नारी कभी भी झूठ धोखा और अन्याय नहीं बर्दाश्त करती है। वह मोदी सरकार की नारी वंदना मणिपुर और जंतर मंतर पर देख चुकी है ।नारी शक्ति को दया नहीं,आज अधिकार की जरूरत है ।उन्होंने कहा कि देश की माताओ- बहनों ने अब ठान लिया है कि आगे 50 सालों तक भाजपा को सत्ता में नहीं लाना है। 2024 के आगामी लोकसभा चुनाव में इंडिया पीडीए गठबंधन की दो तिहाई बहुमत की सरकार बनाना है।इस बैठक में श्रीमती आशा भारती प्रधान,आशा यादव पूर्व प्रधान ,शांति बिन्द, केवला गुप्ता, श्याम प्यारी बियार, रामवंती राजभर ,रंगोली सोनकर, मंजू तिवारी,सालेहबेगम, खैरु निशा, आरती चौहान, नौरंगी गोंड़,आरती मुसहर, प्रभावती बिन्द आदि महिलाओं सहित वीरेंद्र यादव बंटी, चंद्रशेखर बिन्द, राजू सोनकर, जमुना भारती, सदिक नट आदि सपा कार्यकर्ता उपस्थित थे |

spot_img

सम्बन्धित ख़बरें

spot_img

हमे फॉलो करें

6,722FansLike
6,817FollowersFollow
3,802FollowersFollow
1,679SubscribersSubscribe
spot_img

ताजा ख़बरें

spot_img
error: Content is protected !!