Home उत्तर प्रदेश चन्दौली लोकसभा 2024 : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू के पोस्ट ‘पिक्चर अभी बाकी है’ ने मचाया तहलका, रामगोपाल यादव से मुलाकात का फोटो किया पोस्ट, समझिए इसके मायने…

चन्दौली लोकसभा 2024 : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू के पोस्ट ‘पिक्चर अभी बाकी है’ ने मचाया तहलका, रामगोपाल यादव से मुलाकात का फोटो किया पोस्ट, समझिए इसके मायने…

0
चन्दौली लोकसभा 2024 : पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू के पोस्ट ‘पिक्चर अभी बाकी है’ ने मचाया तहलका, रामगोपाल यादव से मुलाकात का फोटो किया पोस्ट, समझिए इसके मायने…

Chandauli news : लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर सपा ने अपने पत्ते खोलते हुए पूर्व मंत्री और सपा प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह को अपना उम्मीदवार घोषित कर सभी अटकलों पर विराम लगाने की कोशिश की. लेकिन टिकट मिलते ही टिकटार्थी और उनके समर्थक अपने राजनीतिक संरक्षकों के जरिये सक्रिय हो गए. चट्टी चौराहों पर विरोध प्रतिरोध व समर्थन के दौर के बीच सैयदराजा से सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू के फेसबुक पोस्ट ने चर्चाओं को और हवा दे दी. उन्होंने सपा के राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव रामगोपाल यादव से मुलाकात की फोटो फेसबुक पर शेयर किया है. इसमें लिखा है मेरे दोस्त पिक्चर अभी बाकी है. पूर्व विधायक का पोस्ट सोशल मीडिया में आने के बाद तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे हैं.

भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल हिस्ट्रीशीटर बने मनोज

विदित हो कि पूर्व विधायक चंदौली लोकसभा सीट से टिकट के प्रमुख दावेदार माने जा रहे थे. जिसको लेकर विधानसभा चुनाव के बाद से ही जनता के मुद्दे पर मुखर दिखाई दिए. उनकी सक्रियता और भाजपा के जनप्रतिनिधियों के लिए खिलाफ मोर्चा खोलने के बदले आधा दर्जन गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर सम्मानित किया गया. घोषी उपचुनाव में जीत का जश्न मनाने पर उनके खिलाफ हुई कार्रवाई मीडिया की सुर्खियां बनी. जब मुकदमा दर्ज किए जाने के साथ ही मनोज सिंह डब्लू के काफिले की गाड़ियां सीज कर दी गई. पुलिस की इस कार्रवाई के खिलाफ शीर्ष नेतृत्व ने विरोध जताया था.

पूर्व विधायक मनोज ने लड़ी जिले के विकास की लड़ाई

बावजूद इसके मेडिकल कॉलेज के स्वायत्तशासी होने से लेकर ट्रामा सेंटर के निर्माण, सिचा, बिजली, सड़क, शिक्षा, समेत दर्जनों ज्वलंत मुद्दों को लेकर न सिर्फ मुखर दिखाई दिए. बल्कि भाजपा व जिला प्रशासन के आंखों की किरकिरी भी बने रहे. उन्होंने गंगा कटान के मुद्दे को 5 दिवसीय यात्रा भी निकाल कर इसे रोकने की मजबूत वकालत की. खास बात यह है कि उनकी मुखरता लोगों के दिलो में अपनी जगह बनाने में भी कामयाब रही. लेकिन टिकट की दौड़ में स्वजातीय प्रत्यासी वीरेंद्र सिंह से पिछड़ गए. 

स्थानीय नेताओं को किया गया नजरअंदाज

समाजवादी पार्टी ने स्थानीय नेताओं को नजरअंदाज करते हुए वाराणसी के चिरईगांव के वीरेंद्र सिंह को चंदौली से लोकसभा प्रत्याशी बनाया है. वीरेंद्र सिंह सपा सरकार में मंत्री रह चुके हैं. वहीं वर्तमान में राष्ट्रीय प्रवक्ता के तौर पर सेवा दे रहे. टिकट मिलने के बाद सपा प्रत्याशी चंदौली पहुंचे और विकास पुरुष पंडित कमलापति त्रिपाठी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया. वहीं मुख्यालय स्थित पार्टी कार्यालय में पत्रकार वार्ता कर अपने मंसूबे भी जता दिए. 

लेकिन इसी बीच पूर्व विधायक मनोज सिंह ने रामगोपाल यादव से मुलाकात कर अपनी फोटो सोशल मीडिया में शेयर कर दी. उनका पोस्ट आने के बाद तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. बहरहाल अब ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या वास्तव में पिक्चर अभी बाकी है? या स्क्रीन प्ले हो पूरा चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here