Home उत्तर प्रदेश <em>सभी सहकारी समितियों पर पर्याप्त खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कर किसानों को सहूलियत पूर्वक वितरण सुनिश्चित हो:जिलाधिकारी</em>

सभी सहकारी समितियों पर पर्याप्त खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कर किसानों को सहूलियत पूर्वक वितरण सुनिश्चित हो:जिलाधिकारी

0
<em>सभी सहकारी समितियों पर पर्याप्त खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कर किसानों को सहूलियत पूर्वक वितरण सुनिश्चित हो:जिलाधिकारी</em>

सभी ब्लॉकों पर शीघ्र ही आयोजित होंगे विद्युत समाधान दिवस:जिलाधिकारी

सभी सहकारी समितियों पर पर्याप्त खाद की उपलब्धता सुनिश्चित कर किसानों को सहूलियत पूर्वक वितरण सुनिश्चित हो:जिलाधिकारी

सभी ब्लॉकों पर शीघ्र ही आयोजित होंगे विद्युत समाधान दिवस:जिलाधिकारी

विद्युत,सिंचाई व सहकारिता विभाग के अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर किसानों की समस्याओं का करें समाधान:जिलाधिकारी

चंदौली

जिलाधिकारी निखिल टी फुंडे की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में खरीफ उत्पादकता गोष्ठी-2023,किसान दिवस एवं सिंचाई बन्धु बैठक का आयोजन किया गया।
बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा खरीफ उत्पादकता रणनीति- 2023 पर विस्तृत चर्चा की गयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता विद्युत अधिशासी अभियंता चंद्रप्रभा एवं मूसाखंड बंधी डिवीजन एआर कोऑपरेटिव अधिकारी आपस में समन्वय बनाकर किसानों की समस्या प्राप्त होते ही उचित समाधान सुनिश्चित करें। सभी किसानों को सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी हेड से टेल तक पहुंचे इस पर लगातार सतत निगरानी करते हुए टेल तक पानी पहुंचा जाय। सभी सरकारी समितियों पर मानक के अनुरूप किसानों को पर्याप्त मात्रा में खाद सहूलियत पूर्वक वितरण किया जाना सुनिश्चित हो। खाद वितरण में कोई हीला-हवाली कत्तई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जितनी भी किसानों में खाद्य का वितरण हो पूरा बकायदे रजिस्टर पर अंकित किया जाए। जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान निर्देशित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी किसानों की समस्या का समाधान यथाशीघ्र सुनिश्चित करें।
बैठक के दौरान जिलाधिकारी द्वारा सहायक निबन्धक सहकारिता से जनपद में उर्वरक की व्यवस्था पर चर्चा की गयी। बताया गया कि वर्तमान समय में लक्ष्य के सापेक्ष यूरिया 46 प्रतिशत एवं डी०ए०पी० 71 प्रतिशत उपलब्ध है। जिसका वितरण साधन सहकारी समितियों के माध्यम से किया जा रहा है। जिस पर किसानों द्वारा मांग की गयी कि साधन सहकारी समिति असना, बरहनी, शिकारगंज, ताजपुर, कैथी व अन्य समितियों पर तत्काल उर्वरक उपलब्ध कराया जायें। उर्वरक वितरण में नैनों यूरिया व नैनों डी०ए०पी० का टैगिंग न किया जायें। जिसपर जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि सभी समितियों व अन्य विक्रय केन्द्रों पर उर्वरक वितरण रजिस्टर स्टाक आदि का ब्योरा प्रतिदिन दर्ज किया जाय।
अधिशासी अभियन्ता, चन्द्रप्रभा द्वारा जनपद में सिंचाई व्यवस्था पर चर्चा की गई, जिसमें किसानों द्वारा अवगत कराया गया कि नहरों में पर्याप्त पानी न होने से धान की रोपाई बाधित है। सिंचाई में रोस्टर की व्यवस्था में परिवर्तन करते हुए सभी टेल तक पानी उपलब्ध कराने की मांग की एवं नहरों पर अतिक्रमण एवं डेढ़ावल, मद्धूपुर व धानापुर में रामरूपदासपुर जल निकासी की व्यवस्था सुचारू रूप से करायी जाय। जिसपर जिलाधिकारी द्वारा सहायक अभियन्ता लघुडाल को निर्देशित किया कि अविलम्ब उक्त ड्रेनों की सफाई करायी जाय। अधिसाशी अभियन्ता, विद्युत द्वारा जनपद में विद्युत व्यवस्था पर चर्चा की गयी, जिसमें किसानों द्वारा मांग की गयी कि लो-वोल्टेज के कारण नलकूप नहीं चल पा रहे है। जिस पर स्थलीय निरीक्षण कराकर लो बोल्टेज की समस्याओं को तत्काल दुरुस्त करने हेतु निर्देशित किया जाय। जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि प्रत्येक माह के तृतीय बुधवार को किसान दिवस एवं सिंचाई बन्धु का आयोजन किया जाएगा जिसमें समस्त सम्बन्धित अधिकारी अनिवार्य रूप से प्रतिभाग करें व आपसी समन्वय स्थापित कर किसानों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर करें।
किसान गोष्ठी के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 एस एन श्रीवास्तव, जिला उद्यान अधिकारी, सहायक निदेशक मत्स्य, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी, चन्दौली, सकलडीहा एवं चकिया व अन्य जनपदीय अधिकारी तथा दीनानाथ श्रीवास्तव, विरेन्द्र सिंह, रतन सिंह, अरविन्द सिंह, राजेश सिंह, मनमन सिंह, शेषनाथ यादव, सन्तोष मिश्रा व अन्य प्रगतिशील कृषक उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here