Home उत्तर प्रदेश एसजी पब्लिक स्कूल में सोमवार को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान आजादी के बाद विभाजन प्रक्रिया के दौरान जान गंवाने वाले लाखों लोगों की स्मृति में दी गई श्रद्धांजलि

एसजी पब्लिक स्कूल में सोमवार को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान आजादी के बाद विभाजन प्रक्रिया के दौरान जान गंवाने वाले लाखों लोगों की स्मृति में दी गई श्रद्धांजलि

0
एसजी पब्लिक स्कूल में सोमवार को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान आजादी के बाद विभाजन प्रक्रिया के दौरान जान गंवाने वाले लाखों लोगों की स्मृति में दी गई श्रद्धांजलि

चंदौली/

पीडीडीयू नगर

रविनगर स्थित एसजी पब्लिक स्कूल में सोमवार को विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस मनाया गया। इस दौरान आजादी के बाद विभाजन प्रक्रिया के दौरान जान गंवाने वाले लाखों लोगों की स्मृति में श्रद्धांजलि दी गई।
विद्यालय के प्रबंध निदेशक अरुण कुमार अग्रवाल ने अमर शहीदों के चित्रों पर पुष्प अर्पित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत का विभाजन देश के लिए किसी विभीषिका से कम नहीं था। यह अंग्रेजों की साजिश थी कि देश को दो टुकड़ों में बांट दिया जाए। इसके लिए कुछ भारतीय नेता भी जिम्मेदार थे। 14 अगस्त 1947 की तारीख देश कभी नहीं भूल सकता है। एक तरफ 200 वर्षों की गुलामी के बाद आजादी मिलने वाली थी तो वहीं दूसरी ओर देश के दो टुकड़े हो रहे थे। लाखों लोग इधर से उधर हो गए थे। घर-बार छूटा, परिवार छूटा, लाखों की जानें गईं, यह दर्द था विभाजन का। भारत के लिए यह विभीषिका से कम नहीं थी। 1947 में विभाजन प्रक्रिया के दौरान भड़की हिंसा में मारे गए लाखों लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए सरकार अब हर 14 अगस्त को यह दिवस मना रही है। कार्यक्रम के उपरान्त छात्रों ने इसपर आधारित प्रदर्शनी का आयोजन किया। जिसमें छात्र-छात्रों ने बढ़-चढ़कर कर हिस्सा लिया। इस मौके पर प्रधानाचार्य प्रशांत कुमार तिवारी, एके सेठ, उजियार प्रजापति, मनोज सिंह,अरविंद कुमार आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here