Saturday, April 13, 2024
Homeउत्तर प्रदेशChandauli news:सपा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव और पूर्व विधायक मनोज सिंह डबलू...

Chandauli news:सपा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव और पूर्व विधायक मनोज सिंह डबलू ने महूजी गंगा तट पर पूजन अर्चन कर गंगा कटान मुक्ति सम्पर्क यात्रा का आगाज

-

spot_img

धानापुर/चंदौली

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत सपा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव और पूर्व विधायक मनोज सिंह डबलू ने महूजी गंगा तट पर पूजन अर्चन कर गंगा कटान मुक्ति सम्पर्क यात्रा का आगाज किया। महूजी से जैसे जैसे पदयात्रा आगे बढ़ी, क्षेत्रीय लोगों का कारवां जुड़ता गया। यात्रा जगह जगह गांवों में रुक कर ग्रामीणों से संवाद स्थापित किया गंगा कटान से जुड़ी उनकी समस्याओं को जाना। साथ ही उनके गांव और इलाके में कटान से मुक्ति दिलाने के लिए उनके सुझावों को भी सुना और उसे संग्रहित किया। कहा कि यात्रा के दौरान गांव स्तर पर गंगा कटान से हुई क्षति और उसके निस्तारण के लिए ग्रामीणों द्वारा दिये गए सुझावों को डीएम और एसडीएम के जरिये शासन तक पहुंचाया जाएगा। इस दौरान मनोज सिंह डबलू ने डबल इंजन की भाजपा सरकार के साथ दो दो बार विधायक, सांसद और मंत्री बने भाजपा नेताओं को भी आड़े हाथ लिया।
इस दौरान मनोज सिंह डबलू ने कहा कि बात करना आसान है, लेकिन किसी संकल्प को लेकर आगे बढ़ना मुश्किल है। कहा कि विधायक रहते हुए कैनाल बनाया, नहरों का पक्कीकरण कराया और कैनलों की क्षमता बृध्दि कराइ। लेकिन भाजपा के लोग किसान हित और जनहित में भाजपा ने ऐसा कोई काम नहीं किया। भाजपा के लोग काम करने की बजाय बड़ी बड़ी बातें करते हैं। डबल इंजन की सरकार में दो दो बार विधायक और संसद रहे भाजपा के नेता एक नही कैनाल नहीं लगा पाए और ना ही पावर हाउस की स्थापना ही करा पाए। बताया कि रैथा में फायर स्टेशन बनाने का काम किया। लेकिन भाजपा कर लोग चंदौली जिला मुख्यालय पर फायर स्टेशन तक नहीं बनवा पाए। जनता को इनके झूठ और वास्तविक सच को समझना होगा। कहा कि जब विधायक था तो 2 पावर हाउस थे लेकिन मेरे द्वारा 16 पावर बनवाने का काम किया। क्षेत्र की जनता और नौजवान के लिए मेडिकल कालेज की सौगात लेकर आया, लेकिन भाजपा के लोगों से उसे छिनने का काम किया है। गांव की जर्जर सड़कों को ठीक किया। भुपैली पम्प कैनाल को पक्का किया। जिससे किसानों के सिंचाई की समस्या काफी हद तक दूर हुई। कहा कि अपने आप को बड़ा विधायक कहने वाले विधायक शहीद को शहीद का दर्जा तक नहीं दिला पाए। यह उनके बड़े होने का प्रमाण हैं। कहा जनता की बात कहने और उसे उठाने के जुर्म में मेरी गाड़ियों की सीज कर थाने में बंद कर दिया गया है। यदि में आज आपके बीच खड़ा हूँ तो इसके पीछे आप सभी की ताकत, स्नेह और आशीष है। कहा कि वह कट्टा में विश्वास नहीं रखते, मेरा विश्वास गट्टे पर है जिसके दम पर जनहित के मुद्दे में लड़ा जा रहा है और शासन प्रशासन को आइना दिखाने का काम हो रहा है। आज हम सभी गंगा कटान से जुड़ी छोटी छोटी मांगों को लेकर जमा हुए हैं ताकि जिन ग्रामीणों और किसानों की जमीन और मकान गंगा की धारा में समाहित हो चुकी है, उसका उचित मुआवजा और जमीन पीड़ित परिवारों को मुहैया कराई जाय। गंगा कटान रोकने के लिए तत्काल प्रभावी परियोजना को अमल में लाया जाये। जिन बस्तियों व मकानों पर कटान का संकट है उन्हें चिन्हित के विस्थापित किया जाय। महुंजी मे जिस स्थान पर क्षेत्र की पांच महिलाएं डूबी थी उक्त स्थान पर पक्का पुल निर्माण के संकल्प के जनसम्पर्क यात्रा शुरू की जा रही है। यदि सपा की सरकार बनी तो पुल निर्माण के मुद्दे को अमलीजामा पहनाने का काम होगा। साथ ही यह भी आरोप लगाया कि जिन महिलाओं की मौत डूबने से हुई थी प्रशासन ने उन्हें मकान देने का वादा किया था, आजतक वो वादा पूरा नहीं हुआ है। यात्रा के बाद उन परिवारों को मकान दिलाने का काम किया जाएगा। चेताया कि अभी प्रेम और सद्भाव के साथ पदयात्रा की का रही है उम्मीद है 18 तारीख तक जिला प्रशासन और शासन गंगा कटान के मुद्दे को संज्ञान में लेकर प्रभावी कार्यवाही करेगी, अन्यथा ग्रामीणों की अगुवाई में जिला मुख्यालय पर बड़ा आंदोलन किया जाएगा। कहा कि 19 सितंबर को फगुइया समेत अन्य गांवों के ग्रामीणों के मुद्दे को लेकर आंदोलन प्रस्तावित था, लेकिन डीएम चन्दौली मुआवजे के मुद्दे को लेकर गंभीर हैं उन्होंने बैठक कर इस बात का भरोसा दिया है कि एक एक ग्रामीण को उचित मुआवजा मिलेगा। जिनके पास जमीन नहीं बचेगी उन्हें मुआवजा भी दिया जाएगा। उनके सकारात्मक पहल को देखने हुए आंदोलन को स्थगित रखा गया है। कहा कि जनता को अपनी समस्याएं और उसके निवारण के लिए तैयार रहना होगा। पहले दिन गंगा कटान मुक्ति यात्रा महुजी से शुरू होकर विरासराय, अवही, जिगना, मेढना, दवनपुरा, नदहा, मन्निपट्टी और गुरेनी पहुंचा, जहां गंगा आरती के साथ पहले दिन का कार्यक्रम स्थगित के दिया गया। सपा नेता योगेन्द्र यादव चकरू ने कहा कि आज सरकार की गलत नीतियां और जनप्रतिनिधियों की उदासीनता का दंश जनता को भोगना पड़ रहा है। लेकिन अब जनता जागरूक हो चुकी है। यदि अब जनता का कार्य सरकार नहीं करेगी तो जनता तूफान खड़ा करने का काम करेगी। साथ ही उन्होंने जनता के हित मे काम करने वाले जनप्रतिनिधियों के नेतृत्व को स्वीकार करने का भी आह्वान किया। इस अवसर पर चकरू यादव,सुरेन्द्र यादव,लालता प्रसाद कनौजिया,नगीना यादव,जानकी देवी,जिज्ञयासा यादव,शिव मूरत मौर्य, राज नाथ बिंद, अंतु राम,मोहन खरवार,द्वारिका खरवार,दीनानाथ कुशवाहा,रामकरण प्रजापति,रघु बिंद, राकेश शर्मा,बैजनाथ गुप्ता,मैनुदिन अंसारी,किसोर प्रधान,मुकेश बिंद, अवधेश मौर्या, विश्णु सिंह,आदर्श सिंह,अखिलेश सिंह,सोनू सिंह, शुर्यपाल सिंह उपस्थित रहे। संचालन छोटेलाल यादव

spot_img

सम्बन्धित ख़बरें

spot_img

हमे फॉलो करें

6,722FansLike
6,817FollowersFollow
3,802FollowersFollow
1,679SubscribersSubscribe
spot_img

ताजा ख़बरें

spot_img
error: Content is protected !!