Home चंदौली पशु आश्रय स्थलों में पशुओं का बेहतर देखभाल हो सुनिश्चित

पशु आश्रय स्थलों में पशुओं का बेहतर देखभाल हो सुनिश्चित

0
पशु आश्रय स्थलों में पशुओं का बेहतर देखभाल हो सुनिश्चित

चंदौली : अपर मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश शासन डॉ0 रजनीश दुबे की अध्यक्षता में पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस सभागार में अधिकारियों के साथ जनपद स्तरीय निराश्रित गोवंश संरक्षण मूल्यांकन एवं अनुश्रवण समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान प्रमुख सचिव द्वारा जनपद में निराश्रित गोवंश आश्रय स्थल के संबंध में जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि जनपद में पशुपालन विभाग द्वारा निराश्रित गोवंश बाहर विचरण करने की रिपोर्ट शून्य (शत प्रतिशत) गोवंश आश्रय स्थलों में संतृप्त दिखाया है। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मेरे जनपद निरीक्षण में ही रास्तों पर निराश्रित पशुओं को देखा गया है यह अत्यंत गंभीर विषय है गोवंशो को आश्रय स्थलो में भेजा जाए।

निराश्रित/बेसहारा सभी पशुओं को गोवंश आश्रय स्थलों में पहुंचाया जाए और उनका बेहतर देखभाल सुनिश्चित किया जाए। पशुओं के लिए हरा चारा, भूसा, खरी सहित दवाओं का प्रबंध पर्याप्त रखें जाय। सरकार की मंशा है कि सभी निराश्रित पशुओं को आश्रय स्थलों में रखकर उनका बेहतर देखभाल सुनिश्चित हो। कोई भी निराश्रित पशु सड़कों, गांवो, खेत खलिहानों में विचरण ना करें इसके लिए उप जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक कर सभी निराश्रित पशुओं को गो आश्रय स्थलों में संरक्षित किया जाए। उन्होंने निर्देशित करते हुए कहा कि निराश्रित पशु जो सुपुर्द किये गए हैं उनको एक सप्ताह के भीतर रैंडम जांच करने व रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

कैटील कैचर का सभी तहसीलों में खरीद सुनिश्चित किया जाए और उसका उपयोग करते हुए निराश्रित पशुओं को आश्रय स्थलों में भेजा जाए। बिहार प्रांत में पशुओं को न जाए इसके लिए पुलिस विभाग व संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने बैठक के दौरान निर्देशित करते हुए कहा कि पशु आश्रय स्थलों पर महीने में एक बार सभी पशुओं का स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य कराया जाए। साथ जो पशु कमजोर है उनको मल्टीविटामिन एवं कैल्सियम दिया जाय। उन्होंने उपजिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि तहसील व ब्लाक स्तरों पर यदि चरागाह की भूमि पर हुए अवैध कब्जा है तो आवश्यक कार्यवाही करते हुए कब्जा मुक्त कराया जाए और स्थलों पर निराश्रित पशुओं के लिए हरा चारा उगाया जाए। गोवर्धन योजना के अंतर्गत गैस प्लांट भी लगाया जाए इसके लिए संबंधित अधिकारी स्थलीय भ्रमण कर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करें। मुगलसराय पड़ाव आसपास के एरिया में पांच गौशालाओं का एवं सकलडीहा सैयद राजा के आसपास पांच गौशालाओं का निर्माण सुनिश्चित किया जाए।

बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी श्री उमेश मिश्रा, मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 एस एन श्रीवास्तव, जिला विकास अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, डीसी मनरेगा, जिला कृषि अधिकारी, उपजिलाधिकारी गण सहित अन्य संबंधित अधिकारी गण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here