Home उत्तर प्रदेश चन्दौली-सैदपुर हाइवे परियोजना में मुआवजे को लेकर डीएम से मिले पूर्व विधायक मनोज, कहा – जमीन के बदले जमीन और मकान के बदले मुआवजा

चन्दौली-सैदपुर हाइवे परियोजना में मुआवजे को लेकर डीएम से मिले पूर्व विधायक मनोज, कहा – जमीन के बदले जमीन और मकान के बदले मुआवजा

0
चन्दौली-सैदपुर हाइवे परियोजना में मुआवजे को लेकर डीएम से मिले पूर्व विधायक मनोज, कहा – जमीन के बदले जमीन और मकान के बदले मुआवजा

सैदपुर-चंदौली हाइवे चौड़ीकरण परियोजना में जिलाधिकारी से मुलाकात के बाद बयान देते सपा नेता मनोज …

Chandauli news : सैदपुर-चंदौली हाइवे चौड़ीकरण परियोजना से प्रभावित फगुईयां समेत तमाम ग्रामीणों के समस्याओं व मुआवजे के मुद्दे पर सपा के पूर्व राष्ट्रीय सचिव मनोज सिंह डब्लू ने मंगलवार को जिलाधिकारी निखिल फुंडे से उनके आवास पर बैठक की. इस दौरान जिलाधिकारी ने भूमि अधिग्रहण से संबंधित तमाम विसंगतियों व ग्रामीणों की आशंकाओं पर चर्चा की. कहा कि जिन ग्रामीणों का मकान डीह की जमीन पर बना है, और उसे अधिग्रहित किया जा रहा है. तो ऐसे ग्रामीणों को उसके मकान का मुआवजा देने के साथ ही डीह की दूसरी जमीन उपलब्ध कराई जाएगी. उसका घर किसी भी हाल में उजड़ने नहीं दिया जाएगा.

फगुइयाँ गांव में ग्रामीणों को संबोधित करते सपा नेता मनोज सिंह डब्लू

बैठक के बाद सपा नेता मनोज सिंह डब्लू ने बताया कि जिलाधिकारी द्वारा फगुईयां समेत तमाम प्रभावित ग्रामीणों व किसानों को लेकर सकारात्मक बातचीत की गई है. उन्होंने मुआवजे को लेकर सारी बातें स्पष्ट की है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि यदि किसी भी ग्रामीणों को अधिग्रहण के संबंध में कोई आपत्ति है, तो वह अग्रिम तौर पर उसे प्रशासन को अवगत कराए. उसकी आपत्तियों का निस्तारण समय से करते हुए उसके उचित मुआवजे का प्रबंध जिला प्रशासन की ओर से किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि डीएम ने इस बात का भरोसा दिया है कि सड़क चौड़ीकरण परियोजना से प्रभावित हो रहे किसी भी ग्रामीण परिवार को बेघर नहीं होने दिया जाएगा. मकानों का मुआवजा देने के साथ ही जमीन के बदले जमीन जिला प्रशासन मुहैया कराएगा, लेकिन यह सिर्फ उन्हीं लोगों को दिया जाएगा. जिसके पास दूसरी कोई जमीन उपलब्ध नहीं है.

यही नहीं जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि यदि आवश्यकता पड़ी तो दोबारा सर्वे कराने का काम भी होगा. लेकिन भी हाल में ग्रामीणों का नुकसान नहीं होने दिया जाएगा. जिला प्रशासन ग्रामीणों के हक और उनके अधिकारों के संरक्षण को लेकर पूरी तरह से गंभीर है. बताया कि इसके साथ ही डीएम से गंगा कटान मुक्ति जनसम्पर्क यात्रा को लेकर बातचीत हुई और कार्यक्रम की अनुमति मांगी गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here