Home उत्तर प्रदेश वृद्धाश्रम में कंबल वितरण के दौरान भावुक हुए पूर्व विधायक मनोज, बोले – दुर्भाग्य है कि हमारे देश में भी वृद्धाश्रम खुले है

वृद्धाश्रम में कंबल वितरण के दौरान भावुक हुए पूर्व विधायक मनोज, बोले – दुर्भाग्य है कि हमारे देश में भी वृद्धाश्रम खुले है

0
वृद्धाश्रम में कंबल वितरण के दौरान भावुक हुए पूर्व विधायक मनोज, बोले – दुर्भाग्य है कि हमारे देश में भी वृद्धाश्रम खुले है

Chandauli news : मुख्यालय स्थित वृद्धा आश्रम में गुरूवार को कंबल वितरण कार्यक्रम आयोजित हुआ. इसमें सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह ने 65 निराश्रितों में कंबल और फल का वितरण किया. इसके बाद निराश्रितों के स्वास्थ्य के बारें में जानकारी हासिल किया. उन्होने बताया कि सरकार की ओर से गरीबों को उपलब्ध कराया जाने वाला कंबल ठंड का मौसम गुजरने के बाद पहुंचता हैं. ऐसे वह ठंड के शुरूआत में कंबल का वितरण करने के सरकार को आइना दिखाने आए हैं.

बता दें कि जिला मुख्यालय स्थित वृद्धा आश्रम में फिलहाल 65 निराश्रित लोग रहते हैं. इन लोगों को शासन की ओर से योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित किया जाता हैं. लेकिन ठंड के मौसम में इन लोगों को सर्दी लगने का भय सताने लगा था. ऐसे में सपा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने पहल करते हुए गुरूवार को कंबल और फल का वितरण किया. साथ ही लोगों से वार्ता कर उनकी समस्याओं को सुना तथा हरसंभव मदद करने का आश्वासन दिया.

वृद्धाश्रम में रह रहे सभी लोगों की अपनी अलग कहानी है. लोगों से बातचीत के क्रम में सपा नेता भावुक भी हो गए. उन्होंने कहा की दीवाली का अवसर है. हमारे बड़े बुजुर्ग यहां वृद्धाश्रम में रहे रहे है. उनसे मुलाकात कर उनका कुशल क्षेम पूछा और दीवाली की शुभकामनाएं दी. उन्होंने वृद्ध जनों के बच्चों से भी अपील की वे यहां आए और अपने मां बाप को साथ ले जाकर रखें. क्योंकि यह दुर्भाग्य है कि हमारे देश में भी वृद्धाश्रम खोलना पड़ रहा है.

उन्होने बताया कि निराश्रित लोगों की मदद करने से सुकून मिलता हैं. सरकार को ऐसे लोगों की मदद करने के लिए तत्परता दिखानी चाहिए. लेकिन खेद हैं कि ठंड का मौसम शुरू होने के बाद भी निराश्रित लोगों को कंबल उपलब्ध नहीं कराया गया है. जबकि शासन सत्ता में बैठे लोग बड़ी बड़ी बातें करके जनता को गुमराह करने का कार्य कर रहे है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here