Home उत्तर प्रदेश <em>बिना रजिस्ट्रेशन के निजी चिकित्सालय का संचाचलन कदापि नहीं होना चाहिए,जो रजिस्ट्रेशन नही करते उनके चिकित्सालय को करे सीज -जिलाधिकारी</em>

बिना रजिस्ट्रेशन के निजी चिकित्सालय का संचाचलन कदापि नहीं होना चाहिए,जो रजिस्ट्रेशन नही करते उनके चिकित्सालय को करे सीज -जिलाधिकारी

0
<em>बिना रजिस्ट्रेशन के निजी चिकित्सालय का संचाचलन कदापि नहीं होना चाहिए,जो रजिस्ट्रेशन नही करते उनके चिकित्सालय को करे सीज -जिलाधिकारी</em>

चंदौली

अधिकारियो संग बैठक करते जिलाधिकारी

शासन की विकास प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यक्रमों के 37 बिंदुओं की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न

बिना रजिस्ट्रेशन के निजी चिकित्सालय का संचाचलन कदापि नहीं होना चाहिए,जो रजिस्ट्रेशन नही करते उनके चिकित्सालय को करे सीज -जिलाधिकारी

जिलाधिकारी निखिल टी फुंडे की अध्यक्षता में शासन की विकास प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यक्रमों के 37 बिंदुओं की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान सड़कों का निर्माण चौड़ीकरण सुदृढ़ीकरण का कार्य लक्ष्य के अनुसार निर्माण कार्य समय अंतर्गत एवं गुणवत्तापूर्ण कराए जाने के निर्देश अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी को दिए। पड़ाव से चकिया तिराहा वाया मुगलसराय 6 लेन सड़क निर्माण में तेज प्रगति लाने के निर्देश भी दिए। जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि गड्ढा मुक्ति हेतु सड़कों का सर्वे करा लिया जाए एवं आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करें। गोवंश आश्रय स्थल की समीक्षा के दौरान गलत डाटा पाया गया जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुवे शख्त निर्देश देते हुए कहा कि अगली बैठक में गलत डाटा पाया जाएगा तो निश्चित करवाही की जाएगी।जिलाधिकारी ने शत प्रतिशत गोवंश को आश्रय स्थलों में संरक्षित करें पर्याप्त चारा-पानी एवं छाया की व्यवस्था सुनिश्चित रहे। सहभागिता योजना अंतर्गत लाभार्थियों का नियमित एवं समय से भुगतान सुनिश्चित करें। लक्ष्य के सापेक्ष शत प्रतिशत पशुओं की ईयर टैगिंग सुनिश्चित कराने के निर्देश पशु चिकित्साधिकारी को दिए। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आयुष्मान गोल्डन कार्ड बनाए जाने की प्रगति असंतोषजनक पाई जाने पर जिलाधिकारी ने निर्देश देते हुए कहा कि ठोस रणनीति बनाकर गोल्डन कार्ड बनाए जाने में अपेक्षित प्रगति लाया जाना सुनिश्चित हो। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित करते हुवे कहा कि जनपद में बिना रजिस्ट्रेशन के अस्पतालों का संचालन किसी भी दशा में नही होना चाहिए सबको नोटिस जारी कर रजिस्ट्रेशन कराना सुनिश्चित करें,फिर भी जो लोग नही मानते है उन सभी के अस्पतालों को सीज करने की कार्यवाही करे अगर ऐसा करने में कोई व्यवधान पैदा कर रहा है तो तुरंत हमे अवगत कराएं हम हर तरह से जरूरी मदद के लिए तैयार है। जिलाधिकारी ने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आयुष्मान कार्ड बनाए जाने में अपेक्षित सहयोग सुनिश्चित किया जाए। हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर द्वारा किए गए स्कूलों को स्वास्थ्य विभाग शिक्षा विभाग द्वारा रैंडम दोबारा जांच किया जाए। स्वास्थ्य केंद्रों पर पर्याप्त दवाइयों की उपलब्धता सुनिश्चित रखी जाए। चिकित्सक बाहर की दवाइयां कत्तई न लिखें।
जिलाधिकारी ने पंचायती राज विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन ग्रामों में अभी भी सामुदायिक शौचालय नहीं बने हैं, जमीन चिन्हित कर प्राथमिकता के आधार पर सामुदायिक सामुदायिक शौचालय बनवाया जाना सुनिश्चित करें। लक्ष्य के सापेक्ष हैंडपंपों के रिबोर/मरम्मत का कार्य की प्रगति कम तथा गलत आंकड़े दिए जाने पर जिला पंचायती राज अधिकारी को कड़ी फटकार लगाते हुवे जल्द जल्द कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए साथ ही अगली बैठक तक कार्य पूर्ण न होने के दशा में कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी जिसके जिम्मेदार ओ खुद होंगे। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना अंतर्गत लक्ष्य के सापेक्ष सड़कों का निर्माण कार्य तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। कोटे की रिक्त-/निलंबित दुकानों को नियमानुसार त्वरित बहाली के निर्देश जिला पूर्ति अधिकारी को दिए। संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि आईजीआरएस की शिकायतों का समय के अंतर्गत निस्तारण पूरी गंभीरता से गुणवत्ता पूर्ण ढंग से करना सुनिश्चित करें। बार-बार निर्देश के बाद भी अब डिफाल्टर श्रेणी की शिकायतें या सी श्रेणी का निस्तारण की शिकायत मिली तो कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।
बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी एसएन श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विकास अधिकारी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास, जिला पूर्ति अधिकारी, अधिशासी अभियंता एलिगेशन, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here